Monday, September 6, 2010

कार्टून : मिलिए 'पॉल द ओक्टोपस ' के प्रथम शिष्य से


बामुलाहिजा >> Cartoon by Kirtish Bhatt

www.bamulahija.com

3 comments:

soni garg said...

वाह रे चेले कुछ कोमनवेल्थ का भी भविष्य बाँच दो ............

Shiv said...

बहुत खूब!

मुझे पूरा विश्वास है कि यह अंतिम बहाना नहीं है. अभी और आने हैं.

प्रसन्नता हुई कि आपने कमेन्ट का आप्शन खोल दिया.

प्रवीण पाण्डेय said...

वाह, गुल और खिलेंगे क्या?