Friday, December 10, 2010

थोडा सामाजिक हुआ जाए


कार्टून को बड़ा देखने के लिए इमेज पर क्लिक करें
बामुलाहिजा >> Cartoon by Kirtish Bhatt

www.bamulahija.com

1 comment:

Rajey Sha राजे_शा said...

दि‍क्‍कत ये है कि‍ जब हम मरें तो हमारे शरीर को श्‍मशानघाट तक ले जाने के लि‍ये कम से कम चार जि‍न्‍दा लोग चाहि‍ये। अगर 5-10 हजार इंटरनेट मि‍त्रों से 4 भी नि‍कल आयें तो ये बहुत ही अच्‍छा रास्‍ता है यारी दोस्‍ती का। वर्ना, बरसों, घंटों कम्‍प्‍यूटर स्‍क्रीन के सामने बैठकर आंखें फोड़ना कहीं से भी बेवकूफी से ज्‍यादा क्‍या है?