page contents

Monday, March 11, 2013

सास बहु के सीरियल देख रहे हैं आजकल मनमोहन

manmohan singh cartoon, tv cartoon, bjp cartoon, congress cartoon, indian political cartoon
























Cartoon by Kirtish Bhatt (www.bamulahija.com)

2 comments:

Neetu Singhal said...

कारे कारज कारि कै धवलित दधिजे सार ।
कारी मटुकी धारि के लटकी देस बहार ॥

भावार्थ : --
कलुषित कर्म के द्वारा , श्वेत मक्खन निकाला ।
काले कुम्भ में भर कर देश के बाहर लटका दिया ॥
अर्थात : -- "संचयित कलुषित धन, देश वासियों का ही श्रम धन है"

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

ha ha..