Friday, April 25, 2008

कार्टून : इधर ''चक दे' उधर 'रिश्वत दे'...

बामुलाहिजा Cartoon by Kirtish Bhatt

5 comments:

Shiv Kumar Mishra said...

बहुत बढ़िया...

वैसे रिश्वत में 'चक' देना कैसा रहेगा..:-)

Gyandutt Pandey said...

अच्छा! वैसे शायद कहा गया चेक दे या कैश (रिश्वत) दे! खिलाड़ी घोंघा हैं - समझते नहीं! :D

अविनाश वाचस्पति said...

आजकल कुछ लेने देने की
नहीं है जरूरत
ऑनलाईन ट्रांसफर हो रहा है
जालिम रिश्‍वत भी
नई प्रौद्योगिकी को
गले लगा चुकी है.

mamta said...

sateek !!

संजय बेंगाणी said...

चक दे बोले तो चेक दे....