page contents

Tuesday, November 24, 2009

कार्टून : ये वाला नोबेल तो हम ही डिज़र्व करते हैं जी


4 comments:

संजय बेंगाणी said...

गोल्ड मेडल क्या पूरी गोल्ड-ईंट मिलनी चाहिए.

Bhavesh (भावेश ) said...

केवल गोल्ड ही क्यों, गोल्ड, प्लेटिनम, सिल्वर, ब्रोंज और जितने भी मेडल हो सब की माला बना कर भारत को मिलने का पूरा पूरा हक है.

पी.सी.गोदियाल said...

इसमें तो रोज गोल्ड मैडल मिलते है हमको ! बढ़िया

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

अब नोबल वाले भी भला इतने मैडल कहाँ से लाएं....अपने य़हाँ तो घर घर में ऎसे महानुभाव भरे हैं, जो कि नोबल जीतने का माद्दा रखते हैं :)