page contents

Wednesday, August 18, 2010

कार्टून : बेचारे लालू क़ी ये हालत?!


बामुलाहिजा >> Cartoon by Kirtish Bhatt

www.bamulahija.com

5 comments:

Bhavesh (भावेश ) said...

देश को खोखला करने वाले नमकहरामो का एक शर्मनाक बयान !!!
जनता की गाढ़ी कमाई का टेक्स का पैसा खा कर उनकी से विश्वासघात करने वाले ये भेडिये पैदा ही देश को बर्बाद करने के लिए हुए है. जब तक देश का पूरा पूरा खून नहीं पियेंगे इनको शांति कहाँ मिलने वाली है.

मनोज कुमार said...

लाजवाब।

प्रवीण पाण्डेय said...

बात में तो दम है,
पर वेतन बड़ा कम है।

rk said...

इन हरामखोरों को वेतन मुख्य सचिव के बराबर चाहिये लेकिन जब उत्तरदायित्व की बात आयेगी तो विशेषाधिकार की बात करने लगेंगे.सरकार को इन्हें किसी सरकारी अधिकारी के बराबर वेतन देने के पहले किसी सरकारी कर्मचारी पर लागू होने वाले सारे नियम कायदे इनके लिये भी बाध्यकारी बनाने चाहिये जैसे इन पर भी भ्रष्टाचार में लिप्त पाये जाने पर सरकारी कर्मचारी अनुशासन एवं अपील नियम के तहत कार्यवायी हो,इनका भी पूलिस वेरिफिकेशन हो,इनके लिये योग्यता निर्धारित हो तथा इनहें निलंबित करने के आसान नियम बनाये जायें तभी इन्हें किसी सरकारी अधिकारी के बराबर वेतन पर विचार किया जाय.
अगर नही तो इन्हें कह दिया जाय कि इन्हें किसी डाक्टर ने नही कहा है कि नेता बनो और राजनीति करो. आप घर मे बैठें और देश को बख्श दें.

दिवाकर मणि said...

एकदम मारक कार्टून, लेकिन भैंस-गाय का चारा खा-खाकर गैंडे की खाल वाले इन नाजायजों को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता.
देश में हम दो हमारे दो का नारा लगा-लगा कर जब थक जाते हैं, तब अपना एक और बच्चा पैदा करने को तत्पर हो जाते हैं.