Saturday, July 27, 2013

एल्लो उनको पता ही नहीं

poverty cartoon, planning commission cartoon, monteksingh ahluwalia cartoon, indian political cartoon, common man cartoon

























Cartoon by Kirtish Bhatt (www.bamulahija.com)

5 comments:

Neetu Singhal said...

बँदा खाब गफलत में, ओढ़े मोटी खाल /
आप लालो जवाहिरे, दूजन खान ख्याल /२१४/

भावार्थ : -- सरकारी बन्दे अपने बदन पे मोटी-मोटी खाल ओढ़ के ख्वाबे-गफलत में हैं अर्थात गहरी नींद में हैं /खुद के खाने में लाल मानिक जैसे जवाहर चाहिए और दुसरे का खाना-ख्याली है अर्थात भोजन सपना है //

रविकर said...

शब्दकोष देते बदल, दल बल छल आयॊग |
सब "गरीब रथ" पर चढ़े, किये बिना उद्योग |
किये बिना उद्योग, हिरन खुद घुसे गुफा में |
खा जाए अब शेर, हाथ में बगुली थामे |
गजल कह रहे शेर, बदल कर आज गद्य को |
गिरता गया अमीर, सँभालो पकड़ शब्द को ||

रविकर said...

आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।। त्वरित टिप्पणियों का ब्लॉग ॥

प्रवीण पाण्डेय said...

बताइये..लोगों को कौन बतायेगा।

रविकर said...

कल की टिप्पणी कब पब्लिश होगी भाई जी-