Monday, July 23, 2012

पिछले डेढ़ - दो साल में यही तोप मारी है सरकार ने.

pranab mukherjee cartoon, pranab mukharjee cartoon, president election cartoon, economy, finance, upa government, indian political cartoon























Cartoon by Kirtish Bhatt (www.bamulahija.com)

5 comments:

रविकर फैजाबादी said...

सबकी उन्नति है हुई, दो नम्बरी अनेक ।

क्रमश: पाते जा रहे, कुर्सी नंबर एक ।

कुर्सी नंबर एक, कहीं एंटोनी राहुल ।

कहीं शरद की खीज, कहीं है सब कुछ ढुल-मुल ।

लेकिन गुल हो रही, यहाँ बत्ती जनता की ।

मंहगाई की मार, करम ना एकौ बाकी ।।

प्रतुल वशिष्ठ said...

सभी जानते हैं...सारे-के-सारे दो नम्बरी हैं... बेकार में परेशान हैं.

पद के उम्मीदवार ये भी नहीं सोचते कि चमचागिरी से इन्होंने 'राष्ट्रपति पद' कि गरिमा गिरा दी है.

दरवाजे-दरवाजे जाकर भीख माँगी है 'महोदय महामहिम ने'.

भारत को आज़ क्या दिन देखने पड़ रहे हैं.


"चापलूस राष्ट्रपति"
उनके कंधे पर ऐसे ही न जाने कितने तमगे लग चुके हैं. मुझे बताने की जरूरत नहीं.

Kajal Kumar said...

very good :)

dr.mahendrag said...

अच्छा कटाक्ष

dr.mahendrag said...

अच्छा कटाक्ष